Driving License Apply: अब घर बैठे आसानी से बना सकते हैं ड्राइविंग लाइसेंस, लेकिन इस तरह करना होगा आवेदन

Driving License Apply: भारत का कानून यह कहता है कि अगर कोई व्यक्ति दोपहिया या 4 व्हीलर सड़क पर चलाता है, तो उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) होना अनिवार्य है। साथ ही यह देश के महत्वपूर्ण दस्तावेजों में से एक है। यह एक पहचान पत्र का भी काम करता है।

पहले Driving Licence बनाने की प्रक्रिया बहुत जटिल हुआ करती थी। वहीं, अब इसे घर बैठे-बैठे बेहद आसानी से बनाया जा सकता है। इसके लिए बस आपको ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा। इसकी सभी प्रक्रियाओं के बारे में आगे हमने इस लेख में सब कुछ बताया है।

पांच स्टेप में बनवाएं Driving Licence

यदि आपको भी ड्राइविंग लाइसेंस की आवश्यकता है और आपको इसकी जानकारी नहीं है तो आगे इस लेख में दी गई सभी स्टेप को ध्यानपूर्वक पढ़िए, ताकि आपको सब कुछ आसानी से समझ आ सके।

Driving Licence बनवाने का पहला स्टेप

पांच स्टेप में समझें कि कैसे आप अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हैं। इसके पहले स्टेप के तहत आपको परिवहन की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। फिर जो भी सर्विस आपको चाहिए उसे चुनना होगा। इसके बाद आपको राज्य का चयन करना होगा और लर्नर्स लाइसेंस के तहत, ‘न्यू लर्नर्स लाइसेंस के लिए आवेदन’ पर क्लिक करना होगा।

Driving Licence बनवाने का दूसरा स्टेप

Driving Licence बनवाने के दूसरे स्टेप के तहत पहले फॉर्म को ध्यान से भरना होगा। अगर यहां आपने जरा सी भी भूल की, तो बाद में सुधार की गुंजाइश बेहद जटिल हो जाती है। अगली प्रक्रिया के तहत सहायक दस्तावेज, फोटो अपलोड करने होंगे और फिर दस्तावेज पर ई-हस्ताक्षर कर सबमिट करना होगा। अगले स्टेप के तहत फीस का भुगतान, स्लॉट बुक करना और लर्नर्स लाइसेंस टेस्ट आपको देना पड़ेगा।

Driving Licence बनवाने का तीसरा स्टेप

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आधार कार्ड वाले आवेदक के लिए ऑनलाइन परीक्षा ली जा सकती है। साथ ही आपको ई-लर्नर लाइसेंस तुरंत मुहैया करा दिया जाएगा। जिन आवेदकों के पास आधार कार्ड नहीं है, उन्हें जो डेडिकेटेड सेंटर होता है, वहां जाकर परीक्षा देनी पड़ सकती है। इसलिए सुनिश्चित कर लें कि आपके पास अपना आधार कार्ड मौजूद हो।

Driving Licence बनवाने का चौथा स्टेप

जैसे ही आपको ई-लर्नर लाइसेंस मिल जाए, तब आप ड्राइव करने के लिए तैयार माने जाते हैं। हालांकि, कुछ क्लॉज के लिए आपको यह प्रदर्शित करने की आवश्यकता होगी कि आप वाहन पर एक लर्नर हैं और आपके पास हर समय एक वैध लाइसेंस धारक है। हालांकि ये नियम अलग-अलग राज्य में अलग-अलग हो सकती है। अत: आप अपने राज्य के अनुसार तय नियमों को एक बार जरूर जान लें।

Driving Licence बनवाने का पांचवा स्टेप

लर्नर लाइसेंस मिलने की अगली प्रक्रिया ये हैं कि इसके जारी होने के करीब 30 दिनों के भीतर आरटीओ सेंटर जाने के लिए निर्देश मिलेगा। वहां जाकर आपको ड्राइविंग अथवा राइडिंग टेस्ट देना होगा। हालांकि इसके बाद आपको एक स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) प्रदान कर दिया जाएगा।